महावीर की शिक्षाओं से ही उन्नति संभव : पासवान

0
287
महावीर की जन्म कल्याणक भूमि के समग्र विकास के लिए चिंतन
महावीर की शिक्षाओं से ही उन्नति संभव : पासवान
unnamed
सांसद श्री चिराग पासवान ने कहा कि भगवान महावीर ने हमें अहिंसा, सहअस्तित्व एवं शांति का संदेश दिया और वर्तमान में उनकी परम्परा के संतजन उन्हीं के सिद्धांतों एवं जीवनशैली को जन-जन में सम्प्रेषित कर रहे हैं। राष्ट्र महावीर के बताए मार्ग पर चलकर ही वास्तविक उन्नति कर सकता है।
श्री पासवान ने आज सुखी परिवार अभियान के प्रणेता गणि राजेन्द्र विजयजी की सन्निधि में उक्त विचार व्यक्त किए। उन्होंने कहा कि बिहार के लिए सौभाग्य की बात है उस भूमि पर महावीर जैसे महापुरुष अवतरित हुए। मेरे लिए यह और भी अधिक सौभाग्य की बात है कि मैं उनकी जन्मकल्याणक भूमि से लोकसभा में प्रतिनिधित्व करता हूं। मेरे संसदीय क्षेत्र के लछवाड़ एवं क्षत्रियकुण्ड में कुछ ऐसी योजनाएं प्रारंभ हो जिससे समुची दुनिया इस पवित्र भूमि के प्रति आकर्षित हो। इसके लिए उन्होंने समग्र जैन समाज से सहयोग की अपेक्षा की।
श्री पासवान ने गणि राजेन्द्र विजय के नेतृत्व में संचालित शिक्षा, सेवा एवं जनकल्याणकारी गतिविधियों की सराहना करते हुए बिहार में भी ऐसी योजनाएं शुरू करने की आवश्यकता व्यक्त की। भगवान महावीर विश्वविद्यालय एवं अहिंसा ग्राम योजना में उन्होंने अपने सहयोग का आश्वासन व्यक्त किया। इस अवसर पर सुखी परिवार अभियान के राष्ट्रीय संयोजक श्री ललित गर्ग ने सुखी परिवार फाउंडेशन की गतिविधियों की जानकारी देते हुए बताया कि अहिंसक ग्राम योजना गांव को स्मार्ट बनाने की दृष्टि से महत्वपूर्ण उपक्रम है। उन्होंने श्री पासवान को ‘महावीर की पाट परम्परा’ पुस्तक भेंट की।img_02101
इस अवसर पर गणि राजेन्द्र विजयजी ने कहा कि महावीर एक ऐसे महापुरुष हैं जिन्होंने अहिंसा, अपरिग्रह और अनेकान्त का सिद्धांत दिया। महावीर की शिक्षाओं और जीवन का हिस्सा बनाकर ही हम स्वस्थ समाज की संरचना कर सकते हैं। उन्होंने महावीर जन्म कल्याणक भूमि के समग्र विकास की आवश्यकता व्यक्त करते हुए कहा कि यह संपूर्ण जैन समाज का दायित्व है कि वे उस पवित्र भूमि पर शिक्षा, सेवा, संस्कार एवं रोजगार की योजनाएं शुरू करें। गणि राजेन्द्र विजय ने भगवान महावीर नेत्र चिकित्साल्य की चर्चा करते हुए कहा कि यहां स्वल्प समय में बीस हजार से अधिक नेत्र आॅपरेशन हुए हैं और सभी सफल रहे हैं। यह भूमि अब सेवा के साथ-साथ शिक्षा की भी भूमि बने। इसके लिए उन्होंने भगवान महावीर विश्वविद्यालय की योजना की जानकारी श्री पासवान को दी।
समग्र श्रीसंघ की ओर से श्री दीपक जैन ने प्रतिनिधित्व करते हुए बताया कि आगामी वर्ष गच्छाधिपति आचार्य श्रीमद् विजय नित्यानंद सूरीश्वरजी के दीक्षा का स्वर्ण जयंती वर्ष है, इस दीक्षा स्वर्ण जयंती महोत्सव के कार्यक्रम दिल्ली में भव्य रूप में आयोजित होंगे। श्री पासवान ने आचार्य नित्यानंद सूरीश्वरजी के आगामी दिल्ली चातुर्मास एवं दीक्षा महोत्सव का स्वागत करते हुए अपने सहयोग का आश्वासन दिया।
(ललित गर्ग)
संयोजक-सुखी परिवार फाउंडेशन
10, पं. पंत मार्ग, नई दिल्ली-110001

LEAVE A REPLY