हिन्द देश के प्यारे लोगो तुम धीरज से काम करो-‘चेतन’ नितिन खरे

0
98
हिन्द देश के प्यारे लोगो तुम धीरज से काम करो, received_1000772263376223
राष्ट्र्हितैशी निर्णय को यूँ ऐसे न बदनाम करो,
चार रोज की पीड़ा से वर्षों के पाप मिटाने हैं,
शोषित वंचित देशवासियों के संताप मिटाने हैं,
स्वाभिमान के साथ गरीबों को भी रोटी देनी है,
नन्हें मुन्हें बचपन को भी मुझे लंगोटी देनी है,
गाँव गरीबों और किसानों का भी हक़ पहुँचाना है,
बड़े बड़े बिजनिसमैनों को छत के नीचे लाना है,
आतंकवाद के भारत भर में फैले पंख कतरने थे,
जख्म शहीदों के परिवारों के भी मुझको भरने थे,
लोकतंत्र के पर्वों से होता व्यापार बचाना था,
नोट और वोटों से होता बंटाधार बचाना था,
टिकट बेंचने वाली नस्लों पे पाबंदी करनी थी,
काले धन पे जीने वालों की नसबंदी करनी थी,
काश्मीर के पत्थरबाजों को भी सीख सिखानी थी,
अलगावादियों को भी घर बैठे जन्नत दिखलानी थी,
पाक और बंगला घुसपैठों से भी तुम्हें बचाना था,
अर्थव्यवस्था से नकली नोटों को दूर भगाना था,
घोटालों के धन का भी तो सत्यानाश जरूरी था,
ईमान धरम का कायम रहना विश्वास जरुरी था,
इसीलिये इस ऑपरेशन में ये तलवार जरुरी थी,
देश के अंदर सर्जीकल की ऐसी मार जरुरी थी,
थोड़े से संकट आयेंगे हँसते हँसते सह लेना,
भूखा रहना पड़े देश की खातिर भूखे रह लेना,
सोचो खुशियों से पहले माँ कितनी पीड़ा ढोती है,
शल्य चिकित्सा में भी बोलो कितनी पीड़ा होती है,
लेकिन वो पीड़ा भी माँ हँस्ते हँस्ते सह जाती है,
खुशियों की चाहत में पीड़ा में महिनों रह जाती है,
वही समर्पण त्याग और बलिदान मांगती भारत माँ,
देशवासियों के हित का वरदान मांगती भारत माँ,
आज कतारों में लगकर के मुझे कोस लो अच्छा है,
लेकिन जरा बता दो ये काला धन किसका बच्चा है ?
स्वर्णअक्षरों में सारे इतिहास लिखे जब जायेंगे,
राष्ट्रहितैषी नाम देश के ख़ास लिखे सब जायेंगे,
ये निर्णय गद्दारों की साँसे अटकाने वाला है,
नया सवेरा अंधकार को चीर के लाने वाला है,
मोदी वाला भारत सबको न्याय दिलाने वाला है,
काले धन वाली गोरी चमड़ी उतराने वाला है,
‘चेतन’ नितिन खरे
महोबा, उ.प्र.

LEAVE A REPLY