हीलिंग और मैडिटेशन से शांति व सुकून पहुंचाने का कार्य करने के लिए डॉ. अमन बाठला को राजीव गाँधी एक्सीलेंस अवार्ड से नवाज़ा गया

0
312

unnamed

डॉ. अमन बाठला विश्व के सबसे तेज़ पियानोवादक के रूप में 36 राष्ट्रीय एवं अंतरराष्ट्रीय मान्यता प्राप्त रिकॉर्ड संस्थाओं द्वारा विश्व रिकॉर्ड सम्मानों से सम्मानित हैं. भारत गौरव, हरियाणा रत्न, पुरस्कारों के बाद अब उन्हें हीलिंग और मैडिटेशन से शांति व सुकून पहुंचाने का कार्य करने के लिए होटल ताज पैलेस चाणक्यपुरी नई दिल्ली में मेम्बर ऑफ़ पार्लियामेंट एंड फॉर्मर कैबिनेट मिनिस्टर, गवर्मेंट ऑफ़ इंडिया डॉ. करन सिंह ने अपने कर कमलों से राजीव गाँधी एक्सीलेंस अवार्ड देकर सम्मानित किया है . अमन गुरुग्राम का ही नहीं भारत का नाम पूरे विश्व मे रोशन कर रहे हैं. हीलिंग और मैडिटेशन के सेशन देने वाले ‘फास्टेस्ट पियानिस्ट ऑफ़ द वर्ल्ड’ डॉ. अमन बाठला जिन्दगी की भाग दौड़ से परेशान न जाने कितने तनावग्रस्त लोगों को अपने द्वारा ईज़ाद किए गए इंडियन क्लासिकल बेस्ड कम्पोजीशनस से शांति व् सुकून पहुंचाने का कार्य कर रहे हैं. इसके लिए उन्हें होटल ताज पैलेस, चाणक्यपुरी, नई दिल्ली में राजीव गाँधी एक्सीलेंस अवार्ड से नवाज़ा गया है. अब लोग उन्हें एक फास्टेस्ट पियानिस्ट के अतिरिक्त एक म्यूजिक हीलर के रूप में भी जानते हैं. उनका संगीत असाध्य रोगों के उपचार में सहायता करता है. उनकी संगीत थेरेपी से मानसिक विकारों से पीड़ित लोगो को आनंद मिलता है और उनमें नयी स्फूर्ति का संचार होता है. यह अनोखी म्यूजिक थेरेपी गर्भवती महिलाओं में अनिद्रा और चिड़चिड़ापन जैसे विकारों के उपचार में सहायक है. पियानो म्यूजिक थेरेपी क्रोध और तनाव को जड़ से मिटाने में भी सक्षम है, इससे मन को शांति मिलती है. इस थेरेपी से न केवल विभिन्न प्रकार के असाध्य रोगों की हीलिंग होती है बल्कि यह जीवन में नया उल्लास और स्फूर्ति जगाने में भी सकारात्मक भूमिका निभाती है. इस प्रकार, देश के प्रति जिम्मेदारी को समझते हुए डॉ. अमन बाठला अब एक म्यूजिक हीलर के रूप में लोगों को शांति प्रदान कर रहे हैं. इसी क्रम में, डॉ. अमन बाठला साउथ सिटी-2 में मकर संक्रांति, 14 जनवरी 2017 को सायं 7.00 बजे 14 वर्ष से अधिक उम्र के व्यक्तियों को समूह में हीलिंग सेशन देने जा रहे हैं. अब उनका उद्देश्य शिक्षकों को निःशुल्क हीलिंग देना है. उनका मानना है कि एक शिक्षक, समाज निर्माण व राष्ट्र निर्माण के लिए पूर्ण समर्पण द्वारा नन्हे बच्चों को युवा अवस्था प्राप्त करने तक जीवन मूल्यों को पल्लवित करने के साथ-साथ आजीविका अर्जित करने के लायक जिम्मेदार नागरिक बनाने का दायित्व सुगमता से निभाता है. इस प्रक्रिया में कभी-कभी शिक्षक वर्ग के जीवन में तनाव व्याप्त हो जाता है, डॉ. अमन बाठला का उद्देश्य, इन समाज व राष्ट्र निर्माता शिक्षकों को संगीत द्वारा तनावमुक्त करना है.

अमन बाठला ने 8 अप्रैल 2016 को सैकड़ों दर्शकों की उपस्थिति में इतिहास के सुनहरे पन्नों पर अपना नाम दर्ज करवाते हुए पियानो पर “एक मिनट में 1208 नोट्स” तथा “एक सेकेण्ड में 33 नोट्स” बजाकर 2 विश्व रिकार्ड अपने नाम किये थे.  यूनाइटेड किंगडम की सरकार द्वारा मान्यता प्राप्त “वर्ल्ड रिकार्ड यूनिवर्सिटी” द्वारा अमन बाठला को “पियानो पर डॉक्टरेट” की हिन्दुस्तान की सर्वप्रथम मानद उपाधि से विभूषित किया जा चुका है. वर्ल्ड रिकार्ड यूनिवर्सिटी, एक विषय में एक व्यक्ति को ही उपाधि से ही विभूषित करती है, इस प्रकार “वर्ल्ड रिकार्ड यूनिवर्सिटी” से “पियानो पर डॉक्टरेट” की उपाधि प्राप्त करने वाले डॉ. अमन बाठला हिन्दुस्तान के एकमात्र व्यक्ति हैं. इतनी यश व उपलब्धियों के बावजूद अमन अपनी धरती से जुड़े हुए बहुत ही सरल व विनम्रस्वभाव के हैं. हर पल ईश्वर का शुकराना करते हुए वह अपना जीवन हीलिंग और मैडिटेशन द्वारा लोगों को मानसिक शांति पहुंचाने में लगाना चाहते हैं.

LEAVE A REPLY