वंचित समाज का 75 प्रतिशत बच्चा मेवाड़ का हिस्सा- डाॅ. गदिया

0
146

ashok gadiya

गाजियाबाद। कोरोनाकाल ने शिक्षा जगत के कार्यक्रमों का स्वरूप ही बदल दिया है। वसुंधरा स्थित मेवाड़ ग्रुप आॅफ इंस्टीट्यूशंस ने इस बार आॅनलाइन शिक्षक व अपना 24वां स्थापना दिवस मनाया। इस अवपर पर दिल्ली-एनसीआर के विभिन्न स्कूलों के 9 प्रिंसिपल समेत डेढ़ दर्जन से अधिक शिक्षकों को मेवाड़ एक्सीलेंस-2020 अवार्ड से सम्मानित किया गया। सभी को डिजीटल सर्टीफिकेट प्रदान किये गये। इस मौके पर मेवाड़ ग्रुप आॅफ इंस्टीट्यूशंस के चेयरमैन डाॅ. अशोक कुमार गदिया, महासचिव अशोक कुमार सिंघल समेत स्कूलों के प्रिंसिपल ने भी अपने विचार व्यक्त किये और कोरोनाकाल में शिक्ष प्रदान करने का एक चुुनौती मानते हुए इसका डटकर मुकाबला करने की बात पर बल दिया। मेवाड़ के चेयरमैन डाॅ. अशोक कुमार गदिया ने कहा कि हमारे होने का अर्थ हम सबमें है। भगवान ने हमें यह एक अनोखा गुण दिया है। जरूरत है इसे देखने व परखने की। जिसने देख-परख लिया और जीवन में उतार लिया तो देखना भविष्य में आश्चर्यजनक परिणाम देखने को मिलेंगे। हमें समाज के उस वंचित समाज के तबके को शिक्षित कर देश की मुख्यधारा से जोड़ना है, जिसके लिए कोई गंभीर रूप से चिंतित नहीं है। उन्होंने कहा कि हमें खुशी है कि हमारे मेवाड़ ग्रुप आॅफ इंस्टीट्यूशंस में 75 प्रतिशत बच्चा उसी वंचित समाज का शिक्षा ग्रहण कर रहा है। मेवाड़ के महासचिव अशोक कुमार सिंघल ने कहा कि डाॅक्टर जीवन बचाता है तो शिक्षक जीवन बनाता है। इसलिए समाज में दोनों का समान महत्व है। उन्होंने कहा कि हम शिक्षक दिवस को संकल्प दिवस के रूप में मनाएं। हम अपने भीतर अनुशासन के साथ-साथ विकास की संभावनाओं को भी जन्म दें।
इससे पूर्व दिल्ली-एनसीआर के विभिन्न स्कूलों के 9 प्रधानाचार्यों को मेवाड़ की ओर से सम्मानित किया गया। मेवाड़ के 7 शिक्षकों को मेवाड़ एक्सीलेंस-2020 अवार्ड से नवाजा गया। मेवाड़ ग्रुप आॅफ इंस्टीट्यूशंस की निदेशिका डाॅ. अलका अग्रवाल ने इंस्टीट्यूशंस की प्रगति रिपोर्ट पढ़ी। मेवाड़ के विद्यार्थियों ने इस मौके पर रंगारंग कार्यक्रम गीत, भजन, भाषण, कविता, गुरु वंदना आदि प्रस्तुत कर सबका मन मोह लिया। समारोह में मेवाड़ परिवार को समस्त स्टाफ आॅनलाइन मौजूद रहा। सफल संचालन पूर्वी ने किया।

ये शिक्षक हुए सम्मानित
स्मिता मिश्रा प्रिंसिपल कार्ल हूबर स्कूल, रेणुका शर्मा प्रिंसिपल डीडीपीएस गोविन्दपुरम, मंजु गुप्ता प्रिंसिपल कोठारी इंटरनेशनल स्कूल, साधना शर्मा प्रिंसिपल संस्कार को-एजुकेशनल स्कूल, नेहा शर्मा प्रिंसिपल जीडी गोयनका स्कूल, अरुण कुमार महानिदेशक-प्रिंसिपल वरदान इंटरनेशनल स्कूल, निधि गौड़ जेकेजी इंटरनेशनल स्कूल इंदिरापुुरम, डाॅ. अलका श्रीवास्तव पिं्रसिपल राम किशन इंस्टीट्यूट, मोहिनी ब्लेस्ट सैम्पसन प्रिंसिपल इन्ग्राहम इंग्लिश मीडियम स्कूल के अलावा सोहन कुमार रजक, डाॅ. रितेश गोयल, विकास कुमार, डाॅ. रिनी श्रीवास्तव, प्रिया कुशवाह, शिवानी आदि।

LEAVE A REPLY