गूंज रही अम्बर में 

0
31

IMG_20170724_184939

गूंज रही अम्बर में, भारत मॉ की जय -जय-जयकार |
इस पावनभूमि पर राम – कृष्ण ने लिया था अवतार ||

गाया-शेर होकर निर्भय यहॉ, एक घाट पर पीते थे पानी |
वीर भरत और एकलव्य की है, अमर – अनूठी कहानी ||

तुलसी, सूर-कबीरा के छंदों से है, अमिट पहचान हमारी |
मेरे भारतमाता की मिट्टी की खुशबू सौंधी – सौंधी प्यारी ||

गुरूवर विरजानंद के दयानंद से शिष्य हुए यहॉ निराले |
सुभाष,भगत,चन्द्रशेखर,बिस्मिल से क्रांतिवीर मतवाले ||

गूंज रही अम्बर में, भारत मॉ की जय -जय-जयकार |
इस पावनभूमि पर राम – कृष्ण ने लिया था अवतार ||

मुकेश कुमार ऋषि वर्मा

LEAVE A REPLY