काठमांडू (नेपाल) में स्थित भगवान पशुपतिनाथ के किए दर्शन

0
77

IMG-20181102-WA0019 IMG-20181102-WA0026
कासगंज (उत्तर प्रदेश)  के वरिष्ठ साहित्यकार डॉ0 चन्द्रपाल मिश्र ‘गगन’, उनकी धर्मपत्नी श्रीमती मंजूलता मिश्रा, कानपुर के प्रसिद्ध गीतकर डॉ0 राधेश्याम मिश्र, उनकी धर्मपत्नी श्रीमती मीनाक्षी मिश्रा सुपुत्र श्री आकाश मिश्र एवं एटा जनपद के कस्बा अलीगंज के सुकवि श्रीधर दुबे ने भारत के उत्तर में स्थित पड़ोसी देश नेपाल की राजधानी काठमांडू में स्थित भगवान पशुपतिनाथ के दर्शन किए। डॉ0 राधेश्याम मिश्र अनमोलरत्न साहित्यिक संस्था के संस्थापक हैं। अनमोलरत्न साहित्यिक संस्था प्रतिवर्ष कानपुर नगर में अनेक साहित्यिक गतिविधियां जैसे साहित्यकारों का सम्मान एवं कवि सम्मेलन आयोजित करती है। आप ईश्वर में अगाध आस्था रखते हैं तथा प्रतिवर्ष धार्मिक स्थलों का देशाटन करते हैं। डॉ0 राधेश्याम मिश्र जी ने एक सवाल के जबाव में कहा कि ईश वंदन से उन्हें मानसिक शक्ति मिलती है। और जब मन में शक्ति का  समावेश हो जाता है तब कुछ समाज के प्रेरणाप्रद करने की ऊर्जा मिलती है। डॉ0 राधेश्याम मिश्र एवं डॉ0 गगन की साहित्यिक एवं सामाजिक विचारधारा में काफी समानताएं देखने को मिलती हैं। डॉ0 चन्द्रपाल मिश्र ‘गगन’ ने भी अभी हाल ही में महाराज बाबा पण्डित रामदयाल साहित्यिक सामाजिक संस्था का गठन किया है। जिसका उद्देश्य भी हिन्दी साहित्य को बढ़ावा देना है। डॉ0 गगन ने बताया कि संस्था देश के प्रगतिशील साहित्यकारों का सम्मान करने के लिए प्रतिबद्ध है। समय समय पर नवोदित काव्य प्रतिभाओं को भी प्रोत्साहन संस्था के माध्यम से दिया जाएगा। डॉ0 गगन ने कहा कि फरवरी 2019 में संस्था एक बड़ा साहित्यिक आयोजन करने जा रही है।

बयूरो चीफ-नरेन्द्र ‘मगन’, कासगंज

LEAVE A REPLY