नवयुवकों को नई राह दिखाने की पहल: काईट ग्रुप ऑफ़ इंस्टीट्युशंस

0
43

we

काईट ग्रुप ऑफ़ इंस्टीट्युशंस, दिल्ली-एन०सी०आर, ग़ाज़ियाबाद ने हाल ही में बी०टेक प्रथम वर्ष के नवागत छात्रों के लिए दो प्रेरणा कार्यक्रमों का आयोजन किया जिसके अंतर्गत नवयुवकों को उद्यमिता के महत्व एवं तम्बाकू सेवन की लत से बचने हेतु उपायों को साँझा किया गया| एक तरफ जहाँ उद्यमिता पर उत्प्रेरक व्याख्यान का आयोजन संस्थान के ऑडिटोरियम में किया गया, वहीँ दूसरी ओर तम्बाकू सेवन से जुड़े व्याख्यान का आयोजन ऑनलाइन मोड के ज़रिये किया गया|

उद्यमिता का महत्व समझाते हुए श्री सुशील अग्रवाल (उद्योगपति) ने जीवन के विकास में गुरुजनों के सहयोग एवं मार्गदर्शन विषय पर विस्तृत प्रकाश डाला| उन्होंने कहा कि श्री राम-कृष्ण के मर्यादित एवं पूजनीय गुण उनके गुरुओं की ही देन है| श्री अग्रवाल जी ने छात्रों को विकास हेतु सुनियोजित परिश्रम करने की सलाह भी दी|

डा0 प्रदीप कुमार मिश्र, कुलपति ए०पी०जे ए०के०टी०यू लखनऊ, डा0 रीना कुमार, डा0 ओ०पी० सिंह एवं डा0 पवन गुप्ता जी ने तम्बाकू सेवन से जुड़े दुष्प्रभावों पर आयोजित ऑनलाइन व्याख्यान को संबोधित किया| वक्ताओं ने बताया कि तम्बाकू एक मीठा ज़हर है जिससे मानव के जीवन शक्ति का ह्रास होता है, मुँह के कैंसर की बिमारी होती है, हृदय की धमनियों में रक्त प्रवाह कम होता है, रक्तचाप बढ़ जाता है, साँस की बिमारी, गर्भपात इत्यादि बीमारियाँ हो सकती हैं| यह लत किशोरावस्था में उत्सुकतावश या मित्रों की संगति से शुरू होती है|

दोनों ही कार्यक्रम नवयुवक छात्रों के लिए बेहद लाभकारी रहे| कार्यक्रम में डा0 अमिक गर्ग (संस्थान के निदेशक), डा0 शैलेन्द्र कुमार तिवारी (डीन), डा0 सी०एम० बत्रा, डा0 राशिद अली, डा0 विपिन कुमार, डा0 एकता, डा0 प्रमोद कुमार शर्मा एवं बी०टेक प्रथम वर्ष के छात्र उपस्थित थे|

LEAVE A REPLY