*पहले सुरक्षा बंधन,फिर रक्षाबंधन* 

0
74
gopal
कोरोना काल में बदला त्यौहारों का स्वरुप
रिश्ते – नाते बदले , बदली  छांव और धूप ।
गूगल मीट पर बांंध दिया बहन ने रक्षासूत्र
आश्चर्य चकित रह गया भाई देख नया रुप ।।
ऑनलाइन नजर उतारती बहना बला हो दूर
दीर्घायु हो मेरा भैय्या , स्नेह बना रहें भरपूर ।
अगले बरस ले लेगी ,  बहना अपना उपहार
सबसे पहले हमें खत्म करना कोरोना असुर ।।
मुहं पर लगाना मास्क , भीड़ से रहना दूर
सैनिटाइजर , साबुन से  हाथ धोना भरपूर ।
हारेगा कोरोना असुर,जीतेगा भारत हमारा
तुम हो मेरे रक्षक,माँ-भाभी की आंखों के नूर ।।
           ✍️ गोपाल कौशल
          नागदा जिला धार म.प्र.

LEAVE A REPLY