शिक्षक दिवस

0
31

शिक्षक दिवस 5 सितम्बर को हर साल मनाया जाता हैं । इस दिन 5 सितम्बर 1888 को डॉ. राधाकृष्णन जी का जन्म हुआ था । वे लोकप्रिय शिक्षक थे। उनके स्टूडेंट्स उनका जन्म दिन शिक्षक दिवस के रूप में मनाने लगें ।

वें अच्छे शिक्षक अच्छे इंसान थे । सभी से बहुत विन्रमता से बोलना व सभी की बातों को सुनना समझना उनके कुछ गुण रहें। देश के प्रथम उपराष्ट्रपति व दूसरे राष्ट्रपति भी रहे । शिक्षा के क्षेत्र में अनेक काम किये व शिक्षा को एक अलग मुकाम तक ले कर के गए । उनके काम समाज के लिये बहुत अच्छे रहें व उन्होंने समाज को एक नई दिशा प्रदान की । शिक्षक दिवस के कई उददेश्य है सच्चाई , अच्छी शिक्षा , सम्मान , आदि ।

यह दिन टीचर्स व स्टूडेंट्स दोनों के लिये सोचने का दिन हैं । आत्मचिंतन का दिन हैं । टीचर्स के कई फ़र्ज़ है और  डेंट्स के भी । सभी को अपना काम पूरी लगन सच्चाई मेहनत के साथ करना चाहिये । देश की उन्नति शिक्षा के स्तर से ही होती हैं । टीचर्स का सम्मान करने से खुद का भी सम्मान बढ़ता हैं । शिक्षकों का करना चाहिये सम्मान वो ही देते है समाज को ज्ञान

शिवाँश भारद्वाज

LEAVE A REPLY