उत्तर प्रदेश बुक ऑफ रिकार्ड मे दर्ज हुआ युवा चित्रकार

0
54

IMG_20170209_142604  लालगंज (रायबरेली)। क्षेत्र के युवा चित्रकार गब्बर सिंह की अनोखी कलाकारी से उनको एक उपल्बधि मिली है , क्षेत्र के चांदा, बन्नामऊ गॉव निवासी 22 वर्षीय युवा चित्रकार गब्बर सिंह पुत्र सुदर्शन ने कई महीनों पहले यानी 15 अगस्त को एक 14440 चावलों से तिरंगे झंडे की कलाकृति चावल के दानो से थर्माकोल पर उकेरी थी जिसको बनाने मे १४४४०  वलों का प्रयोग किया था , उसी दरम्यान इस युवा चित्रकार की कलाकृति की काफी तारिफ हुई थी व कई समाचार पत्रों ने इसे प्रमुखता से छापा था। , जिसको उत्तर प्रदेश बुक ऑफ रिकार्ड ने अपने रिकार्ड बुक मे दर्ज कर लिया है , रिकार्ड बुक ने गब्बर सिंह को एक सार्टिफिकेट व मेडल भेजा है। चित्रकार को मिली इस कामयाबी से क्षेत्र मे खुशी की लहर दौड गई । वही बधाई देने वालों का तांता लग गया ।
गब्बर सिंह ने बताया कि वो बचपन से कुछ अलग करना चाहते थे , हमेशा कोशिस करते की अद्भूत करें । लोकिन कुछ नही समझ पाते , लेकिन उनके मन मे अचानक ये चावलों से तिरंगा बनाने का ख्याल आया फिर उन्होने इसको बनाना शुरू कर दिया , काम इतना कठिन था कि कई बार उनको लगा कि छोड दे न करें लेकिन देश के प्रति लगन ने उनका हौसला व कुछ अलग करने की चाह ने उनका हौसला टूटने नही दिया और उन्होने अद्भुत तिरंगे का निर्माण किया ,। और फिर रिकार्ड दर्ज हो गया ।

कई नामी बडी हस्ति़यों ने दी बधाई

 देश की जानी मानी हस्तियों  पद्मश्री डा० सुनील जोगी ,मुंबई के गीतकार चंदन राय , उत्तराखंड के लिम्का बुक होल्डर हरिमोहन सिंह एठानी , डां राकेश वैद,गिनिज बुक होल्डर विनोद कुमार चौधरी,
व कवि संजय कुमार गिरि,अभिनित सेठ,सहित कई हस्तियों ने बधाई दी है

LEAVE A REPLY