विवेकानन्द के सपनों का भारत एकल विद्यालयों में : रमेश अग्रवाल

0
98

7

राष्ट्र जागरण के अग्रदूत स्वामी विवेकानंद की पावन जयंती पर राष्ट्रीय कवि संगम द्वारा, दिल्ली-रोहिणी सेक्टर-8 पॉकेट C-9 के श्री विनोद मंगला एवं प्रमुख समाजसेविओं द्वारा आयोजित कवि सम्मेलन पर प्रमुख अतिथि के रूप में बोलते हुए अग्रवाल पैकर मूवर के चेयरमैन एवं राष्ट्रीय कवि संगम के संस्थापक ट्र4स्टी श्री रमेश अग्रवाल ने कहा की आज विवेकानन्द के सपनों का भारत बनाने की आवश्यकता है| उन्होंने देश में शिक्षा के विस्तार पर बल देते हुए कहा की सुदूर ग्रामीण एवं पर्वतीय क्षेत्रों में जहाँ स्कूल नहीं है वहाँ भारत लोक शिक्षा परिषद् जैसी सामाजिक संस्थाओ को एकल विद्यालय की भूमिका निभानी चाहिए | कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए श्री जगदीश मित्तल ने कहा विवेकानन्द 39 वर्ष की आयु में भारत को एक नई दिशा देकर चले गए |

उन्होंने कहा की हम कितने वर्ष जिये यह महत्वपूर्ण नहीं अपितु हम कैसा जिए, किसके लिए जिये, हमारे जीवन से कितनो को प्रेरणा मिली | इस अवसर पर भारत लोक शिक्षा परिषद् के कोषाध्यक्ष संजीव गोयल, गंगाराम हॉस्पिटल के प्रमुख सर्जन डॉ बी.बी. अग्रवाल, राममनोहर लोहिया हॉस्पिटल के चेस्ट प्रमुख डॉ देश दीपक अग्रवाल, Kajaria Ceramices के GM सं3जय डाचा, प्रमुख निर्यातक सुभाष जिंदल, लायंस क्लब के प्रमुख सुभाष जैन एवं दीपक अग्रवाल, दिल्ली भाजपा कोषाध्यक्ष श्याम लाल गर्ग, वात्सल्य ग्राम के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष एवं पूर्व विधायक जयभगवान अग्रवाल, गोपाल गोसदन हरेवली के मंत्री एवं केशव पुरम भाजपा जिला अध्यक्ष रोशन कंसल, भाजपा जिला अध्यक्ष वेदपाल मान, उप महापौर तारा चन्द बंसल निगम पार्षद शोभा विजेंद्र एवं नीलम गोयल, राष्ट्रीय कवि संगम के ट्रस्टी सुरेश गुप्ता एवं सूर्या रोशनी के एस एन बंसल, समाजसेवी ललित सिंगल, आकाश गोयल, अश्वनी गुप्ता, अजय बंसल, ईश्वर मित्तल उपस्थित रहे |8   प्रेरणादायी कवि सम्मेलन मुकेश चौधरी, चतुर्भुज अग्रवाल, पवन गुप्ता, रमन मंगला, एन के गर्ग, श्यामलाल गुप्ता, राधेश्याम गर्ग, अशोक अग्रवाल, आनंद जैन, विजेंद्र गर्ग, दुर्गाप्रसाद अग्रवाल के द्वारा आयोजित किया गया | खचा-खच भरे सभागार में सुदीप भोला, राजेश चेतन, अशोक बत्रा, रसिक गुप्ता, ऋतु गोयल, बलजीत कौर तन्हा, शुभम मंगला मंजु शाक्या ने काव्य पाठ किया |

LEAVE A REPLY