यह चुनाव का महापर्व है

0
18

यह  चुनाव  का  महापर्व है, आओ मिलकर इसे मनायें l

प्रत्याशी  की  भीड़  लगी है, सही गलत समझें, समझायें ll

 

लॉलीपॉप   हाथ   में   लेकर, लुभा   रहे   नेतागण   सारे l

चयन हेतु अब अवसर आया, बहकावे   से   रहें   किनारे ll

 

लोकतन्त्र  पर हमें गर्व है l

यह चुनाव का महापर्व है ll

 

अब विकास के बीज उगाकर, चलो राह  को  उन्नत कर लें l

छूट   गये   जो    पीछे – पीछे, आओ उनको दिल में भर लें ll

 

सुबह  चलें  मतदान केन्द्र पर, गोपनीय   मतदान  करें  हम l

उचित   बीज   को  ही बोने से, फल मिलता मिट जाता है गम ll

 

अर्पित  भारत  हेतु सर्व है l

यह चुनाव का महापर्व है ll

 

लूटपाट  का  खेल खतमकर, भाईचारे    को     अपनाना l

अब विकास की राह चुनें हम, चलना  बस चलते ही जाना ll

 

भ्रष्टाचार  मिटाकर के अब, कालेधन  का नाम मिटायें l

बहुत  हो  चुकी    हेराफेरी, उचित राह को ही अपनायें ll

 

नाम उजागर किया हर्व है l

यह चुनाव का महापर्व है ll

अवधेश कुमार अवध

awadesh

LEAVE A REPLY