अखिल भारतीय साहित्य परिषद् के काव्योत्सव में कवियों-कलाकारों ने रंग जमाया

0
44

WhatsApp Image 2021-12-05 at 5.56.44 PM
बहादुरगढ़। अखिल भारतीय साहित्य परिषद् की जिला इकाई द्वारा गांव नूनामाजरा में आयोजित काव्योत्सव में
क्षेत्र के जाने माने कवियों और कलाकारों ने अपनी भावपूर्ण प्रस्तुति से सभी को मंत्रमुग्ध किया। संस्था के जिला संयोजक विरेन्द्र कौशिक द्वारा आयोजित व मास्टर चंद्रभान कौशिक,मुकेश जांगिड़ा के सानिध्य में संपन्न इस कार्यक्रम की अध्यक्षता ग़ज़लकार सतपाल स्नेही ने की व संचालन गीतकार कृष्ण गोपाल विद्यार्थी ने किया।
काव्योत्सव का शुभारंभ मोहित कौशिक की हरियाणवी व्यंग्य रचनाओं से हुआ। अनिल भारतीय ने मौत को ज़िंदगी की सौत बताते हुए अपने शुभ कर्मों से अमरता का प्रेरक संदेश दिया। कुमार राघव ने अपनी ओजपूर्ण रचनाओं के माध्यम से खूब तालियां बटोरीं। राजकुमार गाईड ने जीवन की नश्वरता और लोगों के उपेक्षापूर्ण व्यवहार को अपनी कविताओं का विषय बनाया।
कार्यक्रम में उपस्थित भारत विकास परिषद् के अध्यक्ष रमेश सुखीजा ने जहां हास्य रचना के माध्यम से जग को सुधारने से पहले खुद को सुधारने का संदेश दिया वहीं इसी संस्था के पूर्व अध्यक्ष हरीश बजाज ने किराएदारों की व
यथा का सजीव चित्रण किया। कार्यक्रम के संयोजक विरेन्द्र कौशिक व भजन गायिका कृष्णा वर्मा ने कन्या भ्रूण के संवाद पर आधारित रचनाएं सुनाकर बेटी बचाओ का संदेश दिया। कृष्ण गोपाल विद्यार्थी व सतपाल स्नेही ने कुछ नए मुक्तक, गीत व  ग़ज़लें सुनाकर इस साहित्यिक आयोजन को और अधिक गरिमा प्रदान की। स्नेही जी के अध्यक्षीय संबोधन व संयोजक विरेन्द्र कौशिक के आभार ज्ञापन के साथ कार्यक्रम का समापन हुआ।

LEAVE A REPLY