मेवाड़ में अंतर्राष्ट्रीय बालिका दिवस मनाया

0
159

20211011_133716

गाजियाबाद। वसुंधरा स्थित मेवाड़ ग्रुप ऑफ इंस्टीट्यूशंस के विवेकानंद सभागार में क्षेत्रीय पुलिस अधिकारियों ने अंतर्राष्ट्रीय बालिका दिवस पर छात्राओं को आत्मरक्षा के टिप्स दिये। उन्हांेने सोशल मीडिया पर बढ़ रहे अपराधों के प्रति भी उन्हें सचेत किया। इंदिरापुरम पुलिस क्षेत्राधिकारी अभय कुमार मिश्रा ने कहा कि लड़कियां अपने अधिकारों व कर्तव्यों के प्रति जागरूक हों। महिलाओं से कम्युनिकेशन करना हमेशा ही समाजहित में रहा है। क्योंकि महिलाएं सही बातों को ज्यादा सही से समझती हैं। इससे लाभ यह होता कि एक महिला तीन परिवारों को संस्कार देती है। बेटी, पत्नी व मां के रूप में उसकी महती भूमिका होती है। इसलिए महिलाएं ज्यादा अच्छे तरीके से अपनी भूमिका निभाती हैं। उन्होंने कहा कि लड़कियां चुप्पी तोड़ें और खुलकर बोलें। उनके साथ कुछ बुरा या अभद्र व्यवहार हुआ हो तो उसे दबाएं या छिपाये नहीं, बल्कि इसके बार में अपने दोस्तों, माता-पिता या फिर पुलिस हेल्पलाइन नंबर 112 या 1090 पर सूचित करें। उनकी पहचान गोपनीय रखी जाएगी।
इंदिरापुरम थाना प्रभारी मनीष बिष्ट व चौकी प्रभारी यतेन्द्र कुमार ने भी अपने विचारों से छात्राओं को सचेत किया। मेवाड़ ग्रुप ऑफ इंस्टीट्यूशंस की निदेशिका डॉ. अलका अग्रवाल ने कहा कि महिलाएं अब एक दिन बालिका दिवस नहीं मनातीं, हर रोज मनाती हैं। वे जानती हैं कि उनके अधिकार और कर्तव्य क्या हैं। उन्हें मालूम है कि कैसे स्वावलम्बी बनना है, कैसे पुरुषों की बराबरी करनी है। कैसे उनके साथ कंधे से कंधा मिलाकर चलना है। उन्होंने कहा कि आज की महिलाएं सक्षम हैं। उन्होंने सुझाव दिया कि पुलिस-प्रशासन महिलाओं को शिक्षित करने के साथ ही पुरुषों की भी काउंसलिंग करे। उनकी वर्कशॉप होना बहुत जरूरी है। इस दौरान उन्होंने पुलिस अधिकारियों को गुलदस्ते भेंट कर सम्मानित किया। समूचे कार्यक्रम का सफल संचालन कवि व पत्रकार डॉ. चेतन आनंद ने किया। राष्ट्रगान के साथ कार्यक्रम का समापन हुआ।

LEAVE A REPLY