काइट ग्रुप ऑफ़ इंस्टीट्यूशंस को नैक मूल्यांकन में ए+ ग्रेड और एआरआईआईए रैंकिंग में दूसरा स्थान मिला

0
63

WhatsApp Image 2022-01-07 at 9.21.43 PM

काइट ग्रुप ऑफ़ इंस्टीट्यूशंस ने शिक्षा मंत्रालय, भारत सरकार द्वारा 29 दिसंबर’ 21 को जारी प्रतिष्ठित अटल रैंकिंग ऑफ इंस्टीट्यूशंस ऑन इनोवेशन अचीवमेंट्स (एआरआईआईए) 2021 में दूसरा स्थान हासिल किया है। इस प्रकार संस्थान ने खुद को शिक्षा और नवाचार का समामेलन साबित कर दिया है। इतना ही नहीं काइट ग्रुप ऑफ़ इंस्टीट्यूशंस को राष्ट्रीय मूल्यांकन और प्रत्यायन परिषद (नैक) द्वारा  ए+ ग्रेड 3.32 सीजीपीए के साथ मिला है ।
देश भर के शिक्षा संस्थानों में नवाचार, स्टार्ट-अप और उद्यमिता विकास के मामलों में वर्ष 2021 में आगे रहे संस्थानों की रैकिंग, 29 दिसंबर 2021 को जारी कर दी गयी। केंद्रीय शिक्षा मंत्रालय और अखिल भारतीय तकनीकी शिक्षा परिषद (एआइसीटीई) द्वारा तैयार की गयी इस अटल रैंकिंग ऑफ इंस्टीट्यूशंस ऑन इन्नोवेशन एचीवमेंट्स (एआरआइआइए) को शिक्षा राज्य मंत्री डॉ. सुभाष सरकार ने जारी की। एआरआइआइए 2021 के अनुसार काइट ग्रुप ऑफ़ इंस्टीट्यूशंस को निजी कॉलेज (टेक्निकल) रैंकिंग में दूसरा स्थान प्राप्त हुआ है।
बता दें कि एआरआईआईए के अंतर्गत छात्रों और शिक्षकों के मध्य नवाचार, स्टार्टअप और उद्यमिता विकास से संबंधित संकेतकों के बारे में देश के उच्च शिक्षण संस्थानों को व्यवस्थित ढंग से रैंकिंग प्रदान की जाती है। साथ ही, एआरआईआईए पेटेंट दाखिल करने और स्वीकृत करने, पंजीकृत छात्रों और फैकल्टी स्टार्टअप्स की संख्या, इनक्यूबेटेड स्टार्टअप्स द्वारा धन जुटाने, नवाचार और उद्यमिता आदि को बढ़ावा देने के लिए संस्थानों द्वारा सृजित विशेष बुनियादी ढांचे आदि जैसे मापदंडों के बारे में संस्थानों का महत्वपूर्ण रूप से मूल्यांकन करती है।  वहीं दूसरी ओर, राष्ट्रीय मूल्यांकन और प्रत्यायन परिषद (नैक) उच्च शिक्षा संस्थानों के आवधिक मूल्यांकन और मान्यता की दिशा में काम करने तथा उच्च शिक्षा संस्थानों में शिक्षण-अधिगम और अनुसंधान की गुणवत्ता को बढ़ावा देने के लिए एवं शैक्षणिक वातावरण को प्रोत्साहित करने के लिए मूल्यांकन तथा प्रत्यायन की व्यवस्था करता है
ये दो मील के पत्थर संस्थान में शिक्षण-अधिगम, परिणाम आधारित शिक्षा, नवाचार और उद्यमिता के लिए एक पारिस्थितिकी प्रणाली बनाने में काइट ग्रुप ऑफ़ इंस्टीट्यूशंस संस्थान के लगातार प्रयासों के परिणाम हैं ।
इन दो उपलब्धियों पर बोलते हुए, काइट ग्रुप ऑफ़ इंस्टीट्यूशंस के निदेशक, डॉ (कर्नल) ए गर्ग ने कहा कि यह बेहद खुशी का क्षण है और मैं संस्थान के प्रत्येक हितधारक, छात्रों, संकाय, स्टाफ, पूर्व छात्रों और अन्य को दिल से बधाई देता हूं, उनके प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष योगदान के बिना, इस तरह की प्रशंसा अर्जित करना संभव नहीं था। उन्होंने आगे कहा कि मुझे ऐसे संगठन का नेतृत्व करने पर गर्व है जहां हम इस तरह के स्तरों को हासिल करने के लिए मिलकर काम करते हैं। संस्था के सभी सदस्यों के सामूहिक प्रयास की वजह से आज एआरआईआईए 2021 में दूसरा स्थान और नैक द्वारा ए+ रैंक हासिल हो सकी है। हमने ये सुनिश्चित किया कि कोरोना वायरस महामारी के दौरान छात्रों का मनोबल प्रभावित न हो। ये एक दिन का काम नहीं था, बल्कि वर्षों के सतत प्रयास का फल है। ये सामूहिक प्रयास का नतीजा है।  ये उपलब्धियां संस्था के शिक्षण व अनुसंधान में अग्रणी होने की निरंतर प्रतिबद्धता का परिचायक है। उच्च स्तरीय प्रतिबद्धता और समर्पण के साथ हम आगे बढ़ते रहेंगे।
इस अवसर पर संस्था के संयुक्त निदेशक डॉ. मनोज गोयल ने संस्था के सभी सदस्यों को उनके निरंतर और सहयोगात्मक प्रयास के लिए बधाई दी। उन्होंने सभी विभागों के समर्पण और प्रयास की भी सराहना की। डॉ. गोयल ने कहा कि हम छात्रों के पूर्ण विकास के लिए प्रतिबद्ध हैं । काइट ग्रुप ऑफ इंस्टीट्यूशन्स इंजीनियरिंग, प्रबंधन और फार्मेसी पाठ्यक्रमों में प्रवेश पाने हेतु युवाओं के लिए प्रमुख संस्थानों में से एक है। यह अपने छात्रों के कल्याण के लिए निंरतर प्रयास  करता है जो उन्हें राष्ट्रीय और अन्तर्राष्ट्रीय दोनों प्लेटफार्मों पर सर्वोत्तम अवसर प्रदान करता है।
संस्था के डीन एकेडेमिक्स डॉ अनिल अहलावत ने शिक्षकों, छात्रों और कर्मियों को बधाई दी। उन्होंने कहा कि कोरोना महामारी के दौरान कैंपस बंद होने के बाद भी शिक्षण जारी रहा। कक्षाएं ऑफलाइन से ऑनलाइन चलीं। महामारी के समय में शिक्षा को रुकने नहीं दिया गया। कैंपस में कोरोना संक्रमण से बचाव का पूरा ध्यान रखा जा रहा है। नैक की ए+ ग्रेड मिलने के बाद मैं सभी शिक्षकों, छात्रों, पूर्व छात्रों और समस्त कर्मचारियों से आह्वान करना चाहूंगा कि वे ऐसे ही काइट ग्रुप ऑफ इंस्टीट्यूशन्स को आगे बढ़ाने में सहयोग देते रहें ।

LEAVE A REPLY