अपने शब्दो से भारत माता के सच्चे वीरो को चरणो मे नमन- साहिल राणा

1
227

हर दिल की धडकन हो सबकी   received_1095255943916178
तुम हमारा अभीमान हो,
भगत, राजगुरू, सुखदेव
तुम ही तो सच्चा हिन्दुस्तान हो
तुम उगे सूरज की भांती जब
अंग्रेजो का फैला काला जाल था,
थी दिल मे माँ भारती
ओर तुम्हारे खून मे ऊबाल था,
तुम वीर थे,
देश-भक्ती की तास्वीर थे
माँ भारती के मस्तक पर खिची
तुम आजादी की लकीर थे
दुशमनो के खून की प्यासी ,
धारदार शमशीर थे
प्रण लिया था अंग्रेजो के हाथो से
अन्न का दाना एक ना खायेंगे
अगर म्रत्यु आयी भूख के मारे
भारत माँ की गोद मे मर जायेंगे
सोचता हूँ बैठकर वो मंजर
कैसा , क्या रहा होगा
हमे आजाद कराने को जब
खून तुम्हारा बहा होगा
चढा दो ईनको सूली पे
जल्लादो ने जल्लादो को कहा होगा
देखा नहीं पर दावा हैं मेरा
तुम्हारी भूली सूरत से भी जल्लाद वो डरा होगा
भरत, राजगुरू, सुखदेव के देश मे हम रहते हैं
बस इसिलिये हम सर उठा के जीते हैं
एे वीरो तुम देश का गौरव, गरिमा
तुम ही देश का सम्मान हो
ए वीरी सच कहू
तुम ही हकीकत मे हिन्दुस्तान हो

           -SAHIL RANA

1 COMMENT

LEAVE A REPLY